पासिंग आउट परेड

     पासिंग आउट परेड एन डी ए की सबसे शानदार घटनाओं में से एक है। यह एक सफल कार्यकाल के समापन की घटना है।यह अनोखी परेड खेत्रपाल परेड मैदान में अपने वरिष्ठ साथियों को विदा करने एक हजार से अधिक केडेट शामिल कर आयोजित की जाती है। ड्रिल, बैंड का अद्वितीय प्रदर्शन का साक्षी बनकर दर्शक और प्रतिभागी मंत्रमुग्ध हो उठते हैं|

a
प्रथम दीक्षांत समारोह एन डी ए, खड़कवासला .... पंडित जवाहरलाल नेहरू द्वारा दसवें कोर्स की समीक्षा : 5 जून 1955

     समापन के क्षणों में, जुनियर केडेटों द्वारा क्वार्टर डेक के पीछे मस्तूल पर धीमी गति से मार्च किया जाता है। अंतिम चरण में, तीन वर्ष की यादों में घिरा हुआ केडेट, अपनी उपलब्धि पर गर्व महसूस करता है । तीन वर्ष पूर्व, घबराहट के साथ इस पवित्र संस्थान में प्रवेश करते हैं, बाद में वह, शरीर और मन से मजबूत बन जाते हैं। वह आदर्श अधिकारी एवं जेंटलमैन की तरह राह पर बढ़ रहे हैं|

a
दीक्षांत समारोह के बाद खुशी मनाते हुए

 

 
 
 
 
  Army Navy Air Force
 
   
 

विक्रेता पंजीकरण प्रपत्र

 

  पहला पृष्ठ | विजन एंड मिशन | काल्पनिक यात्रा | टेंडर्स | सूचना अधिकार | आंतरिक शिकायत समिति | साइट मैप

 

राष्ट्रीय रक्षा अकादमी द्वारा डिजाइन एवं विकसित किया गया। एन आई सी (राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र) द्वारा साइट होस्ट की गई।
कॉपीराइट 2015 राष्ट्रीय रक्षा अकादमी सभी अधिकार सुरक्षित।